Sat. Jul 20th, 2024

ऋषिकेश: तीर्थ नगरी ऋषिकेश में मूसलाधार बारिश के चलते बारिश प्रभावित क्षेत्रों की स्थिति का महापौर अनिता ममगाई ने निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों को तत्काल सुरक्षात्मक उपाय करने के आदेश जारी किये।

शनिवार को विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ शहर के बारिश प्रभावित क्षेत्रों का महापौर ने बारिकी के साथ निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि अगर कोई घटना सामने आती है तो प्रभावितों की तत्काल मदद की जाये।

महापौर ने कहा कि भारी बारिश के मद्देनजर गंगा और उसकी सहायक नदियों, नालों में भारी जलप्रवाह हो रहा है। तटीय इलकों के लोगों को सावधान रहने की जरूरत है। महापौर ने कहा कि आसमान से बरस रही प्राकृतिक आपदा की वजह से पूरे उत्तराखंड में लोग समस्याओं से जूझ रहे हैं। जिन्हें राहत पहुंचाने के लिए प्रदेश की धामी सरकार तत्परता से जुटी हुई है।

उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे सतर्कता बढ़ाएं तमाम क्षेत्रों में कीटनाशक दवाओं का लगातार छिड़काव हो ताकि बारिश रूकने पर डेंगू का खतरा ना पनप सके। उन्होंने अधिकारियों को खासतौर पर प्रभावित लोगों को तत्काल राहत प्रदान करने के लिए आवश्यक कदम उठाए के लिए निर्देशित किया। महापौर ने बताया कि सरकारी मशीनरी बारिश प्रभावित क्षेत्रों में सक्रिय रूप से लगी हुई है।

इस दौरान मुख्य नगर आयुक्त राहुल कुमार गोयल, अधिशासी अभियंता दिनेश उनियाल, पार्षद अनीता रैना, विजय बडोनी,उमा बृजपाल राणा, अनिल ध्यानी, सतवीर तोमर, बृजपाल राणा, पवन शर्मा, गौरव कैंथोला , पुष्पा पुंडीर , सुरेंद्र कैंतूरा, गोविंद चौहान,आशीष झाम, वीरेंद्र केंतुरा, पूनम अरोड़ा, पुनम सोती, आकाशदीप, प्रेम सैनी ,लक्ष्मी अधिकारी, केके कपूर, प्रशांत शर्मा, गोपाल शर्मा, राजबाला देवी, सुभाष शर्मा, अशोक शर्मा, रमेश, रघुवीर सिंह ,पितांबर दत्त घड़ियाल, उमा धतरवाल ,पिंटू, मुकेश कंडारी, दीपक थापा, त्रिलोक रावत, दीपक पोखरियाल, सतीश अरोड़ा आदि मोजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *