Fri. Apr 19th, 2024

हरिद्वार। विश्व हिन्दू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने यूसीसी लागू करने पर उत्तराखंड सरकार का आभार व्यक्त किया है। प्रैस क्लब में पत्रकारों से वार्ता करते हुए मिलिंद परांडे ने कहा कि उत्तराखंड सरकार ने इच्छा शक्ति का प्रदर्शन करते हुए यूसीसी लागू कर बड़ी राजनीतिक पहल की है। अवैध मतांतरण पर भी रोक लगे इसके लिए यूसीसी को पूरे देश में लागू किया जाना चाहिए, इसके लिए विश्व हिन्दू परिषद लगातार प्रयास कर रही है।

मिलिंद परांडे ने कहा कि संपूर्ण देश में मंदिरों को सरकारी नियंत्रण से मुक्त करने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। उत्तराखंड सरकार को यूसीसी के तहत राज्य में अवैध मतांतरण गतिविधियों पर सख्ती से रोक लगानी चाहिए। दूसरे मत में गए लोग यदि वापस हिंदू धर्म में लौटना चाहते हैं तो विश्व हिन्दू परिषद इसमें सहयोग करेगी और समाज को भी इसके लिए आगे आना चाहिए। सीएए लागू करने के केंद्र सरकार के फैसले का स्वागत करते हुए मिलिंद परांडे ने कहा कि सीएए कानून के तहत बांग्लादेश, पाकिस्तान, अफगानिस्तान के हिन्दू, जैन, इसाई, बौद्ध, इसाई आदि धर्मो के भारत में रह रहे शरणार्थियों को भारत की नागरिकता दिलाने के लिए विश्व हिन्दू परिषद पूरा प्रयास करेगी।

उन्होंने कहा कि विश्व हिन्दू परिषद का राजनीति से कोई सीधा संबंध नहीं है। लेकिन विश्व हिन्दू परिषद का मानना है कि हिंदू हितों में काम करने वाले लोगों को ही चुनाव में चुना जाना चाहिए। इसके लिए सभी शत प्रतिशत मतदान करें। सीएए का विरोध किए जाने पर उन्होंने कहा कि निजी स्वार्थ के लिए सीएए का विरोध करने वाले हिंदू हितों का भी विरोध कर रहे हैं। मिलिंद परांडे ने कहा कि मुसलमानों को अपने नेतृत्व जो उन्हें मजहबी कट्टरता की तरफ लेकर जा रहा हैं, पर विचार करना चाहिए और समय रहते उसे बदल देना चाहिए।

विश्व हिन्दू परिषद के कामकाज के संबंध में जानकारी देते हुए मिलिंद परांडे ने कहा कि यह विहिप स्थापना का 60वां वर्ष है। संगठन की दृष्टि से विहिप देश के 11 सौ जिलों में सेवा कार्यो में सक्रिय है। 70 लाख से ज्यादा लोग हितचिंतक के रूप में विहिप से जुड़े हैं। इस वर्ष हितचिंतकों की संख्या 1 करोड़ से ज्यादा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 34 देशों में विहिप संगठन कार्य कर रहा है। इसके अलावा फ्रांस, बेल्जियम और फिलीपींस में विहिप का कामकाज शुरू कर दिया गया है। विश्व के जिन देशों में हिंदू समाज रह रहा है। उन सभी देशों में विहिप के कामकाज को बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि अयोध्या में भव्य राममंदिर निर्माण का विश्व हिन्दू परिषद का लक्ष्य पूरा हो गया है। 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह भारत सहित विश्व के कई देशा में मनाया गया। उन्होंने कहा कि राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के लिए विपक्ष के सभी राजनेताओं को आमंत्रित किया गया था। लेकिन अधिकांश ने निमंत्रण को ठुकरा दिया। राम मंदिर का निमंत्रण ठुकराने वालों को इसका फल भोगना होगा।

प्रैसवार्ता के दौरान विश्व हिन्दू परिषद के क्षेत्रीय संगठन मंत्री सोहन सिंह सोलंकी, प्रांत मंत्री धीरेंद्र शर्मा, प्रांत संगठन मंत्री अजय कुमार, प्रचार प्रसार विभाग के प्रांत प्रमुख पंकज चौहान, बजरंग दल के प्रांत संयोजक अनुज वालिया, अमित कुमार, कुलदीप कुमार आदि भी मौजूद रहे।

The post यूसीसी लागू करना उत्तराखंड सरकार की बड़ी राजनीतिक पहल-मिलिंद परांडे first appeared on viratuttarakhand.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *