Sat. Jul 20th, 2024

हरिद्वार। पल्स पोलियो अभियान के अंर्तगत शून्य से पांच वर्ष तक का एक भी बच्चा खुराक पीने से वंचित न रहे। यह निर्देश जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने जिला कार्यालय सभागार में पल्स पोलियों अभियान की समीक्षा करते हुए दिए। डीएम ने निर्देशित करते हुए कहा कि निर्धारित आयु–वर्ग का कोई भी बच्चा पल्स पोलियों खुराक पीने से वंचित न रहे, इसके लिए व्यापक स्तर पर व्यवस्थाएं करते हुए अभियान चलाया जाए।    उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि ईंट भट्टों सहित विभिन्न क्षेत्रों में बाहर से आए कामगारों एवम मजदूरों के बच्चों को भी पोलियो खुराक पिलाई जाए तथा 3 मार्च को बाहर से आने वाले एवम सफर करने वाले बच्चों के लिए भी विशेष व्यवस्था की जाए। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि पूर्व अभियान में अपने बच्चों को पोलियो खुराक न पिलाने अभिभावकों तथा क्षेत्रों को चिन्हित किया जाए और ऐसे व्यक्तियों को जागरूक करने हेतु विभिन्न धर्मों के धार्मिक गुरुओं का भी सहयोग लिया जाए।
बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि 3 मार्च को आयोजित होने वाले पल्स पोलियों अभियान में जनपद के शून्य से पांच वर्ष तक के 347076 बच्चों का लक्ष्य रखा गया है, जिसके लिए जनपद में कुल 1868 बूथ बनाए गए हैं, जिसमे से 1664 फिक्स्ड बूथ, 189 ट्रांजिस्ट बूथ व 15 मोबाइल बूथ बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि किसी कारण 3 मार्च को पोलियो खुराक पीने से वंचित रहे बच्चों के लिए 4 मार्च को घर घर जाकर पोलियों ड्रॉप पिलाई जाएगी। जिसके लिए घर घर हेतु 976, ट्रांजिस्ट 129 व 69 मोबाइल टीम बनाई गई हैं, इस प्रकार कुल 1171 टीम बनाई गई हैं। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मनीष दत्त, एसीएमओ डॉ तिवारी, एसीएमओ डॉ अशोक तोमर, डॉक्टर सीपी त्रिपाठी डीपीओ सुरेखा सहगल, डॉक्टर अजीत (डब्लू एच ओ) समस्त ब्लाॅक स्वास्थ्यअधिकारी मौजूद थे।

The post जिलाधिकारी ने की पल्स पोलियो अभियान की समीक्षा first appeared on viratuttarakhand.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *