Wed. May 22nd, 2024

हरिद्वार। प्रैस क्लब में आयोजित संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए हरिद्वार लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी वीरेंद्र रावत ने कहा कि केंद्र सरकार का दस वर्ष का कार्यकाल निराशाजनक रहा है। युवाओं को प्रतिवर्ष दो करोड़ रोजगार देने और महंगाई खत्म करने का वादा कर सत्ता में आयी मोदी सरकार अपने किसी वादे पर खरी नहीं उतर पायी है।  दस वर्षो में देश में महंगाई और बेरोजगारी लगातार बढ़ी है। बड़ी संख्या में युवा आबादी बेरोजगार बैठी है। महंगाई लगातर बढ़ रही है। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग महंगाई का दंश झेल रहा है। राज्य के संसाधनों पर बाहरी लोगों का दबदबा बना हुआ है। उन्होंने कहा कि वे 72 सूत्रीय विकास का एजेंडा लेकर जनता के बीच वोट अपील कर रहे हैं। वीरेंद्र रावत ने शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में पानी की निकासी के समाधान के लिए प्रयास किए जाएंगे। अपने पिता और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के मुख्यमंत्री काल में कराए गए विकास कार्यो पर भी उन्होंने बात रखते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के काल में जनपद में 17 पुलों के निर्माण सहित तमाम विकास कार्यो को भी गति प्रदान की गयी। वीरेंद्र रावत ने बताया कि वह जनता की सेवा के लिए राजनीति में आए हैं। दिल्ली में एनएसयूआई छात्र संगठन से राजनीति शुरू करते हुए कांग्रेस में विभिन्न पदों पर रहकर जनता के मुद्दों को प्रमुखता से उठाया। वीरेंद्र रावत ने कहा कि अंकिता हत्यांकाड में अब तक मृतका के परिजनों को सरकार न्याय नही दिला पायी है। वीआईपी का नाम भी उजागर नहीं किया गया। प्रैस क्लब अध्यक्ष अमित कुमार शर्मा व महामंत्री प्रदीप जोशी ने बुके देकर वीरेंद्र रावत का स्वागत किया। इस दौरान ऋषिवादी कर्मशील यंग परमार्थी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश कुमार कश्यप के संयोजन में कांग्रेस प्रत्याशी को अपना समर्थन प्रदान करते हुए जनता से वोट की अपील की। कार्यक्रम में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राव आफाक अली, अंजू द्विवेदी, सुशील राठी, समर्थ अग्रवाल आदि कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे।




The post केंद्र सरकार का दस वर्ष का कार्यकाल निराशाजनक, जनता की सेवा के लिए राजनीति में आया : वीरेंद्र रावत first appeared on viratuttarakhand.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *