Home » उत्तराखंड के चारधाम में हृदयाघात से दस श्रद्धालुओं की मौत, अब तक 92 श्रद्धालु तोड़ चुके दम।

उत्तराखंड के चारधाम में हृदयाघात से दस श्रद्धालुओं की मौत, अब तक 92 श्रद्धालु तोड़ चुके दम।

by admin

उत्तराखंड के चारधाम में हृदयाघात से दस श्रद्धालुओं की मौत, अब तक 92 श्रद्धालु तोड़ चुके दम….

देहरादून : मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.बीके शुक्ला ने बताया कि गुरुवार को केदारनाथ धाम में नालंदा (बिहार) निवासी नंदू (65) बलरामपुर (उत्तर प्रदेश) हरिद्वार तिवारी (62) विश्वेश्वर नगर आलमबाग (उत्तर प्रदेश) निवासी रामनारायण त्रिपाठी (65) और सीसवाली बारां (राजस्थान) निवासी हेमराज सोनी (61) की मौत हृदयाघात से हुई।

चारधाम में हृदयाघात से मरने वाले श्रद्धालुओं का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। बीते तीन दिनों में 24 श्रद्धालु हृदयाघात से दम तोड़ चुके हैं। जबकि, अब तक 92 श्रद्धालुओं ने चारों धाम में दम तोड़ा। गुरुवार को केदारनाथ में चार, बदरीनाथ में तीन, गंगोत्री में एक और यमुनोत्री में दो श्रद्धालुओं की मौत हृदयाघात से हुई।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.बीके शुक्ला ने बताया कि गुरुवार को केदारनाथ धाम में नालंदा (बिहार) निवासी नंदू (65), बलरामपुर (उत्तर प्रदेश) हरिद्वार तिवारी (62), विश्वेश्वर नगर, आलमबाग (उत्तर प्रदेश) निवासी रामनारायण त्रिपाठी (65) और सीसवाली, बारां (राजस्थान) निवासी हेमराज सोनी (61) की मौत हृदयाघात से हुई।

बदरीनाथ धाम में तीन श्रद्धालुओं की मौत हुई, इनमें चित्तौडग़ढ़ (राजस्थान) निवासी कमला बाई (62), विवेकानंद नगर (कर्नाटक) निवासी विजय कुमार (72) और राजस्थान निवासी भंवर लाल (65) शामिल हैं। उधर, यमुनोत्री दर्शनों से लौट रहे नैनी, इलाहाबाद (उत्तर प्रदेश) निवासी रामचंद्र शाहू (67) ने पैदल मार्ग पर खरादी के पास एक होटल में दम तोड़ा। जबकि, सांडवा, चुरू (राजस्थान) निवासी लालचंद राठी (56) की मौत जानकीचट्टी से यमुनोत्री जाते हुई। वहीं बुधवार की रात हर्षिल में ठहरे उत्तर प्रदेश के बेलागंज पटवारी (आगरा) निवासी चंद्रभान राठौर (65) की हृदय गति रुकने से मौत हो गई।

हृदयाघात से मरने वाले श्रद्धालु

धाम, 26 मई को, कुल मृतक

यमुनोत्री, 02, 25

गंगोत्री, 01, 05

केदारनाथ, 04, 41

बदरीनाथ, 03, 16

ऋषिकेश, 00, 05

related posts

Leave a Comment

Share