Home » अब उत्तराखंड में बदला मौसम का मिजाज, मौसम विभाग ने दी आज और कल इन जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी।

अब उत्तराखंड में बदला मौसम का मिजाज, मौसम विभाग ने दी आज और कल इन जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी।

by admin

अब उत्तराखंड में बदला मौसम का मिजाज, मौसम विभाग ने दी आज और कल इन जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी…..

देहरादून: देहरादून में बुधवार देर शाम को मौसम का मिजाज बदला और झमाझम वर्षा शुरू हो गई। इससे गर्मी और उमस से आम जन को खासी राहत मिली।

रुक-रुककर वर्षा का सिलसिला देर रात तक चलता रहा। इस बीच शहर में कई स्थानों पर जलभराव की सूचनाएं भी आईं। हालांकि जिन स्थानों पर पानी भरा, वह कुछ समय बाद निकल गया।

मौसम विज्ञान केंद्र ने आज और कल देहरादून-नैनीताल समेत कई जिलों में भारी वर्षा का अनुमान जताया है। साथ ही मैदानी क्षेत्रों में 60 से 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से अंधड़ चलने की चेतावनी भी जारी की है।

देहरादून समेत प्रदेश में पिछले कई दिनों से मौसम शुष्क बना हुआ है। जिसके चलते भीषण गर्मी और उमस बेहाल कर रही है। बुधवार को भी सुबह से ज्यादातर इलाकों में चटख धूप खिली। मैदानों में दिनभर भीषण गर्मी रही।

हालांकि, शाम को प्रदेशभर में बादलों ने डेरा डाला और पर्वतीय क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा हुई। चारधाम में वर्षा के कारण मौसम सर्द हो गया। कहीं-कहीं चोटियों पर हल्का हिमपात भी हुआ।

इधर, देहरादून समेत आसपास के इलाकों में बादलों के बीच तेज हवाएं चलीं। हालांकि, रात के समय तेज हवाओं के बीच वर्षा शुरू हो गई। वर्षा का क्रम देर रात तक जारी रहा।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम ङ्क्षसह के अनुसार आज और कल देहरादून, नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ के साथ ही कई स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। इसे लेकर यलो अलर्ट जारी किया गया है। वहीं, अन्य जिलों में हल्की से मध्यम वर्षा होने के आसार हैं। मैदानी क्षेत्रों में अंधड़ चलने की आशंका है।

नगर——अधिकतम—न्यूनतम
देहरादून—-39.9——–26.5
पंतनगर—–39.0——-27.4
हरिद्वार——39.8—-26.8
मुक्तेश्वर—–28.5—-16.2
नई टिहरी—-29.0—–19.2
मसूरी———28.8—-18.5
नैनीताल——28.3—–17.7

मसूरी में भी बारिश से मौसम सुहावना
मसूरी में बुधवार शाम करीब छह बजे कुछ देर तेज बौछारें पड़ी। जिससे पर्यटकों के साथ ही स्थानीय निवासियों ने गर्मी व उमस से राहत महसूस की। दिन में तेज धूप से लोग परेशान रहे। दोपहर बाद अचानक बादलों ने आसमान में डोरा डाल दिया।

शाम लगभग छह बजे करीब दस मिनट तक बौछारें पड़ी। इसके बाद रात करीब दस बजे फिर से वर्षा शुरू हो गई। जब वर्षा हुई तो ज्यादातर सैलानी व आमजन मसूरी की सड़कों पर टहल रहे थे। बौछारें पड़ते ही सभी ने दुकानों व ढाबों में कुछ देर शरण ली। सभी ने इस मौसम का लुत्फ उठाया।

0 comment
0