Home » उत्तराखंड में गैरसैण सत्र के विरोध का गजब तरीका, विधायक भेज रहें सीएम क़ो सत्र देहरादून में कराने के लिए चिट्ठी।

उत्तराखंड में गैरसैण सत्र के विरोध का गजब तरीका, विधायक भेज रहें सीएम क़ो सत्र देहरादून में कराने के लिए चिट्ठी।

by admin

उत्तराखंड में गैरसैण सत्र के विरोध का गजब तरीका, विधायक भेज रहें सीएम क़ो सत्र देहरादून में कराने के लिए चिट्ठी…

देहरादून: उत्तराखंड में गैरसैण सत्र के विरोध का नया तरीका सामने आया हैं विधायक मुख्यमंत्री को पत्र लिख रहे हैं और शीतकाल में गैरसैंण में सत्र ना कराने की मांग कर रहे हैं लेकिन बड़ा सवाल यह है कि ना तो ग्रीष्मकालीन सत्र गैरसैंण में हो रहा है और ना ही शीतकालीन सत्र उत्तराखंड में कैट्स एंड में अंतिम सत्र 2021 की मार्च में हुआ था जिसके दौरान त्रिवेंद्र सिंह रावत की मुख्यमंत्री की कुर्सी चली गई थी उसके बाद से गैरसैण वीरान ही पड़ा है

सरकार अगर गैरसैण जाने का मन भी बना लें लेकिन जिस तरह से विधायकों का रवैया है उससे निराशा है अभी तक मैदानी जिले के दो और एक पहाड़ी जिले के विधायक ने गैरसैण में सत्र ना करने का आग्रह किया है मैदानी जिले के विधायकों की भले भावना ना हो लेकिन पहाड़ी जिलों के विधायक भी गैरसैण जाने से कन्नी काट रहें है।

यानि ग्रीष्म काल में चार धाम के चलते गैर सेंड में सत्र नहीं होगा शीतकाल में विधायकों के विरोध के चलते सत्र नहीं होगा

यमुनोत्री विधायक संजय डोभाल ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पत्र लिखकर विधानसभा का आगामी शीतकालीन सत्र देहरादून में आयोजित करवाने का अनुरोध किया है। 2 नवंबर 2022 को प्रेषित अपने पत्र में यमुनोत्री विधायक श्री संजय डोभाल ने मुख्यमंत्री धामी से अनुरोध किया है कि उत्तराखण्ड की आमजन भावनाओं को दृष्टिगत रखते हुए ग्रीष्मकालीन विधानसभा सत्र को गैरसैण तथा शीतकालीन विधानसभा सत्र देहरादून में संपन्न कराया जाए।

विदित है कि इससे पूर्व 1 नवंबर 2022 को खानपुर विधायक उमेश कुमार तथा लक्सर विधायक शहजाद ने भी पत्रों के माध्यम से विधानसभा का आगामी शीतकालीन सत्र देहरादून में आयोजित करवाने का अनुरोध किया है।

खानपुर विधायक उमेश कुमार ने उत्तराखण्ड में आमजन की भावनाओं को दृष्टिगत रखते हुए ग्रीष्मकालीन विधानसभा सत्र को गैरसैण में तथा शीतकालीन विधानसभा सत्र देहरादून में संपन्न कराए जाने तथा लक्सर विधायक शहजाद ने गैरसैण में अत्यधिक ओलावृष्टि, वर्षा तथा निरन्तर हिमपात होने के कारण विधानसभा का शीतकालीन सत्र देहरादून में ही आयोजित करवाने का आग्रह किया है।

related posts

Leave a Comment

Share